मुख्यमंत्री द्वारा चोटी के उद्योगपतियों के साथ मुलाकात
नई दिल्ली, 31 जुलाई:  पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने आज औद्योगिक दिग्गजों को भरोसा दिया कि भूमि का प्रयोग के मंतव्य में तबदीली (सी.एल.यू) में बदलाव करने के लिए इजाज़त देने के लिए मौजूदा औद्योगिक नीति की समीक्षा करेंगे जिससे राज्य में औद्योगिक विकास को और प्रोत्साहन दिया जा सके।
मुख्यमंत्री ने यह भरोसा भारतीय उद्योग के चोटी के उद्योगपतियों के साथ अलग -अलग तौर पर की मीटिंगों के दौरान दिया। मुख्यमंत्री ने राज्य में औद्योगिक विकास को प्रोत्साहन देने और और निवेश लाने के लिए उद्योगपतियों के साथ क्रमवार मीटिंगें की।
मुख्यमंत्री ने आज शाम यहाँ वॉलमार्ट इंडिया प्राईवेट लिमटड के प्रमुख और सी.ई.ओ.कृश अईयर और चीफ़ कॉर्पोरेट अफेअरज़ आफिसर रजनीश कुमार के साथ मुलाकात की। इसके बाद मुख्यमंत्री ने मैक्स हैल्थकेयर के सी.ई.ओ. और एम.डी. राजीत मेहता के साथ भी मीटिंग की। इसी तरह मुख्यमंत्री ने शाही एक्सपोर्ट प्राईवेट लिमटड के एम.डी. हरीश अहुजा और रैडीसन होटल के ग्रुप चेयरमैन ऐमरीटस और प्रमुख सलाहकार दक्षिणी एशिया के.बी. काचरू के साथ भी मीटिंगें की।
सी.आई.आई और पंजाब ब्यूरो ऑफ इनवेस्टमैंट प्रमोशन द्वारा मुख्यमंत्री के साथ औद्योगिक दिग्गजों के करवाए जाने वाले एक दिवसीय वार्तालाप सैशन से पहले यह मीटिंगें हुई। यह सैशन कल नईं दिल्ली में होना है।
एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने उद्योगपतियोंं को बताया कि औद्योगिक घरानों द्वारा पंजाब में निवेश को यकीनी बनाने के लिए उनकी सरकार ने अलग-अलग रियायतों दी हैं। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने उद्योगों की विशेष चिंताओं को दूर करने के लिए ज़रूरत पडऩे पर नयी औद्योगिक नीति की भी समीक्षा करने का वायदा किया।
वॉलमार्ट कंपनी के प्रतिनिधियों के साथ विचार-विमर्श के दौरान मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि उनकी सरकार कंपनी को पंजाब में अपने कारोबार का दायरा और विशाल बनाने के लिए सी.एल.यू. तबदीली को विचारेगी। इस कंपनी ने वर्ष 2009 में अपना पहला स्टोर राज्य में स्थापित किया था। मुख्यमंत्री ने पंजाब में कंपनी को अपना कारोबार बढ़ाने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यापार को आसान बनाने के लिए उनकी सरकार द्वारा नयी औद्योगिक नीति अमल में लाई गई है और यदि उद्योग की बड़ी चिंताओं को दूर करने के लिए नीति में संशोधन की ज़रूरत हुई तो वह इसके लिए तैयार हैं।
वॉलमार्ट के प्रतिनिधियों ने अगले 3-4 वर्षांे में पंजाब में 10 -12 नये स्टोर खोलने के लिए इच्छा व्यक्त की है और दो स्टोर पटियाला और मोहाली में स्थापित किये जाने की संभावना है। कंपनी के प्रतिनिधियों ने मुंबई में स्थापित किये ‘डार्क स्टोर ’ की तजऱ् पर पंजाब में भी ऐसा ‘डार्क स्टोर ’ खोलने में रूचि दिखाई। डार्क स्टोर की रूप रेखा नज़दीक के किराना स्टोरों को सीधे तौर पर और अन्य बी -टू -बी ग्राहकों को ऑनलाईन आर्डर के द्वारा सेवाएं मुहैया करवाने के लिए बनायी गई है।
पंजाब में कंपनी के कारोबार में जुटी महिलाओं की सराहना करते हुए वॉलमार्ट के प्रतिनिधियों ने बताया कि उनके हरेक स्टोर में महिलाओं समेत 250 व्यक्तियों को सीधे तौर पर और 2000 व्यक्तियों को अप्रत्यक्ष तौर पर रोजग़ार मुहैया करवाया जायेगा।
मैक्स हैल्थकेयर के सी.ई.ओ और एम.डी. के साथ विचार-विमर्श के दौरान मुख्यमंत्री ने बताया कि उनकी सरकार ने स्वास्थ्य संभाल को प्रमुख क्षेत्र माना है और सरकार राज्य में स्वास्थ्य  संभाल की सहूलतों को मज़बूत बनाने की इच्छुक है। श्री मेहता ने बताया कि उनकी कंपनी बठिंडा में एक मैडीकल कालेज खोलने की इच्छा रखती है और कंपनी द्वारा लोगों के स्वास्थ्य संभाल के लिए अपेक्षित मानवी शक्ति को प्रशिक्षण देने में राज्य सरकार के यतनों के लिए अपना पूरा सहयोग देगी।
मुख्यमंत्री ने मोहाली में स्थित मैक्स अस्पताल की पार्किंग की जगह उपयुक्त न होने के मसले को हल करवाने का वायदा किया क्योंकि इस मसले के कारण अस्पताल की क्षमता 200 बिस्तरों से बड़ा कर 300 बिस्तरे करने का काम रुका हुआ है। श्री मेहता ने बताया कि कंपनी द्वारा अस्पताल के नज़दीक पार्किंग के लिए ज़मीन खरीदने या सिवल अस्पताल की ज़मीन लीज़ पर लेने की पेशकश पहले ही की हुई है।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा शाही एक्सपोर्टस के साथ बातचीत के दौरान राज्य सरकार की तरफ से कपड़ा उद्योग के विकास के लिए बुनियादी ढांचे को और मज़बूत करने के लिए नियमों की तबदीली के लिए सरकार द्वारा लिए जा रहे मानक फ़ैसलों संबंधी विस्तार में बताया गया। मुख्यमंत्री ने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा उद्योगों के द्वारा अपने मुलाजिमों को लाने -लेजाने के लिए इस्तेमाल की जाती बसों पर कर की छूट, औद्योगिक इकाईयों को 24*7 कामकाज के लिए तीन शिफ्टों में काम करने के लिए फ़ैसले लिए जाएंगे। इसके इलावा फ्लोर एरिया रेशो (एफ.ए.आर) ख़ातिर जोन प्रणाली को और रचनात्मक बनाया जायेगा। महिला मुलाजिमों के लिए औद्योगिक इकाइयों में रात की शिफटों में कामकाज के मौके पैदा करने के लिए महिला मुलाजिमों की सुरक्षा के विशेष प्रावधान करने के साथ साथ अन्य ज़रूरी सहूलतों के प्रबंध किये जाएंगे।
मुख्यमंत्री द्वारा श्री काचरू के साथ मुलाकात के दौरान आतिथ्य के क्षेत्र को विशेष ध्यान देते हुए पंजाब की नयी औद्योगिक नीति में दी जा रही विशेष छूटों संबंधी जानकारी दी गई। पंजाब सरकार पर्यटन और आतिथ्य उद्योग के लिए मनोरंजन कर से 100 प्रतिशत छूट के लिए विचार कर रही है।
मुख्यमंत्री को अवगत करवाया कि ग्रुप द्वारा 2022 तक भारत में होटलों की संख्या 200 करने की योजना है । जिसके अंतर्गत 10 हज़ार अन्य मुलाजिमों का विस्तार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इस मौके पर पंजाब में इस ग्रुप के 10 होटल हैं और मोहाली में लाईफ़ स्टाइल होटल बनाया जा रहा है। श्री काचरू कहा कि ग्रुप द्वारा अपने उद्योग का विस्तार छोटे शहरों में करने को ध्यान दिया जा रहा है।
Categories: Uncategorized

cdadmin

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *