प्रदेशभर में सैकेण्डरी एवं सीनियर सैकेण्डरी (कम्पार्टमेंट/आंशिक अंक सुधार/अतिरिक्त विषय व मर्सी चांस) जुलाई-2018 की एक-दिवसीय परीक्षा में नकल के 269 मामले दर्ज किये गये 

चंडीगढ़, 15 जुलाई- प्रदेशभर में आज संचालित हुई हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, भिवानी की सैकेण्डरी एवं सीनियर सैकेण्डरी (कम्पार्टमेंट/आंशिक अंक सुधार/अतिरिक्त विषय व मर्सी चांस) जुलाई-2018 की एक-दिवसीय परीक्षा में नकल के 269 मामले दर्ज किये गये हैं तथा बोर्ड अध्यक्ष के उडऩदस्ते द्वारा 02 सुपरवाईजर एवं सहायक निदेशक (प्रशासन) के उडऩदस्ते द्वारा 01 सुपरवाईजर ड्यूटि से कौताही बरतने पर रिलीव किये गये। बोर्ड द्वारा प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर पूर्ण समय हेतु नियुक्त आब्ज़र्वर एवं सभी उडऩदस्तों द्वारा नकल पर प्रभावी अंकुश व नकल की कुप्रवृत्ति को रोकने में अभूतपूर्व सफलता हासिल की। सरकार व शिक्षा बोर्ड द्वारा अपनाई गई ‘शून्य सहनशीलता’ की नीति मील का पत्थर साबित हुई।
 बोर्ड के प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह के उडऩदस्ते द्वारा जिला हिसार के परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया गया तथा नकल के 07 केस पकड़े। उन्होंने आगे बताया कि बोर्ड सचिव श्री धीरेन्द्र खडग़टा के उडऩदस्ते द्वारा जिला गुरूग्राम के परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया गया तथा नकल के 25 केस पकड़े। 
 उन्होंने आगे बताया कि नकल पर अकुंश लगाने के लिए बोर्ड अध्यक्ष के स्पेशल उडऩदस्तों द्वारा सभी जिलों का निरीक्षण किया गया, जिसमें जिला अम्बाला, फतेहाबाद, हिसार, जींद, करनाल, कुरूक्षेत्र, महेन्द्रगढ़, पानीपत, रेवाड़ी, रोहतक, सोनीपत एवं नूंह के परीक्षा केंद्रों में नकल के 96 केस पकड़े तथा बोर्ड सचिव श्री धीरेन्द्र खडग़टा के स्पेशल उडऩदस्तों द्वारा सभी जिलों का निरीक्षण किया गया, जिसमें जिला हिसार, रोहतक, यमुनानगर एवं नूंह के परीक्षा केंद्रों में नकल के 10 केस पकड़े। उन्होंने बताया कि रैपिड एक्शन फोर्स ने 10 केस पकड़े तथा अन्य उडऩदस्तों द्वारा नकल के 121 मामले दर्ज किए गए।
 प्रवक्ता ने आगे बताया कि बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह के उडऩदस्ते द्वारा एफ.सी. कन्या वरिष्ठ माध्यममिक विद्यालय, हिसार-07 परीक्षा केंद्र पर नियुक्त दो सुपरवाइजर श्री कुलदीप सिंह, पीजीटी, एस.एस. वरिष्ठ माध्यममिक विद्यालय, उमरा (हिसार) व श्री राजेश कुमार, जेबीटी, राजकीय प्राथमिक पाठशाला, भगाना (हिसार) को ड्यूटी से कोताही बरतने पर रिलीव किया गया है। उन्होंने बताया कि सहायक निदेशक (प्रशासन) के उडऩदस्ते द्वारा राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यममिक विद्यालय, नूंह-03 परीक्षा केंद्र पर नियुक्त सुपरवाइज़र श्री साहबुदीन, कम्प्यूटर अध्यापक को ड्यूटी से कोताही बरतने पर रिलीव किया गया है।
 उन्होंने आगे बताया कि इन परीक्षाओं में 83 हजार 811 परीक्षार्थी प्रविष्ट हुए, जिनके लिए प्रदेशभर में 285 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षाओं के सुव्यवस्थित संचालन को सुनिश्चित करने के लिए 285 अधीक्षक नियुक्त किए गए। 
 उन्होंने हरियाणा सरकार, शिक्षा विभाग, प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस प्रशासन द्वारा दिए गए अभूतपूर्व सहयोग के लिए हार्दिक आभार व्यक्त किया। इसके अतिरिक्त उन्होंने उन सभी शिक्षकों की भी प्रशंसा की, जिन्होंने अपनी परीक्षा ड्यूटी का पूर्ण ईमानदारी व कत्र्तव्यनिष्ठा से निर्वहन किया। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग, शिक्षा बोर्ड तथा प्रदेश के प्रशासन द्वारा कड़े इंतज़ामों व सख्ती के चलते तथा परीक्षा की गरिमा व पवित्रता से कोई समझौता नहीं करने की नीति के फलस्वरूप इस परीक्षा का संचालन सुचारू रहा। उन्होंने आगे कहा कि इस परीक्षा के नकल-रहित संचालन में मीडिया द्वारा अहम् भूमिका निभाई गई तथा नकल की बुराई के प्रति व्यापक रूप से जन-जागृति उत्पन्न की गई। उन्होंने यह विश्वास व्यक्त किया कि यह सहयोग बोर्ड को आगे भी मिलता रहेगा।

Categories: Uncategorized

cdadmin

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *