उत्तर प्रदेश समाचार (नवंबर माह की रिपोर्ट)मुख्यमंत्री ने दीपावली के अवसर पर जनपद गोरखपुर की ग्राम पंचायत तिकोनिया नम्बर-3 में वनटांगिया ग्राम के विकास हेतु लगभग 1.32 करोड़ रु0की 07 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकापर्ण किया

Share this News:





मुख्यमंत्री ने दीपावली के अवसर पर जनपद गोरखपुर की ग्राम पंचायत तिकोनिया नम्बर-3 में वनटांगिया ग्राम के विकास हेतु लगभग 1.32 करोड़ रु0की 07 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकापर्ण किया

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने दीपावली के अवसर पर जनपद गोरखपुर की ग्राम पंचायत तिकोनिया नम्बर-3 में वनटांगिया ग्राम के विकास हेतु लगभग एक करोड़ 32 लाख रुपये की कुल 07 परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकापर्ण किया। इसमें 01 परियोजना का शिलान्यास तथा 06 परियोजाओं का लोकार्पण शामिल है। इसके अतिरिक्त, उन्होंने मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अन्तर्गत 10 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किये। इसके साथ ही प्राइमरी स्कूल के बच्चों द्वारा हैण्डवॉश डेमो कार्यक्रम के प्रस्तुतिकरण पर बच्चों को सम्मानित किया। मुख्यमंत्री जी ने जनपद के 05 वनटांगिया राजस्व ग्रामों, जनपद महराजगंज के 01 वनटांगिया राजस्व ग्राम के मुखिया सहित अन्य संस्थाओं को प्रशस्ति पत्र प्रदान किये। सभी को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जनपद गोरखपुर की चयनित 05 वनटांगिया बस्तियों को राजस्व ग्राम का दर्जा दिया गया है। मुख्यमंत्री आवास योजनान्तर्गत इन सभी गावों में कुल 791 आवास निर्माण कराने का लक्ष्य निर्धारित है, जिसके तहत 694 आवास का निर्माण पूर्ण हो चुका है तथा 97 निमार्णाधीन है। उन्होंने बताया कि 2 वर्ष पूर्व इन गावों में पक्का मकान, शौचालय, पेंशन, मालिकाना हक, हैण्डपम्प, सड़क, बिजली आदि की सुविधा नहीं थी। प्रदेश सरकार ने इन गावों में विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध करा दी हैं। इन ग्रामों के बच्चों को शिक्षा का लाभ मिल रहा है और उन्हें नि:शुल्क यूनिफार्म, बैग, स्वेटर आदि भी उपलब्ध हो रहा है। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि अच्छी सोच के साथ यदि अच्छा काम किया जाये तो उसका परिणाम भी अच्छा होता है। अयोध्या में कल ह्यदीपोत्सवह्ण का भव्य आयोजन सम्पन्न हुआ। हम सभी को दीपावली का पर्व अंधकार से प्रकाश की ओर, अन्याय से न्याय की ओर और बुराई से अच्छाई की ओर ले जाने का संदेश देता है। यह पर्व हर्ष एवं उल्लास के साथ मनाया जाता है। पर्व और त्योहार सामूहिकता के प्रतीक हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश की 38 वनटांगिया बस्तियों को राजस्व ग्राम का दर्जा देकर उन्हें शासकीय सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राज्य सरकार बिना भेद-भाव सभी के विकास हेतु प्रतिबद्ध है। अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को खुशहाल बनाकर समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए प्रदेश सरकार निरन्तर कार्य कर रही है। बच्चों को अच्छी शिक्षा देने के साथ ही बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के माध्यम से बेटी-बेटा में भेदभाव समाप्त करने की दिशा में अनेक कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं। इसी कड़ी में अभी 25 अक्टूबर को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की शुरूआत की गयी है। इस योजना के तहत बालिका के जन्म लेने से स्नातक/प्राविधिक शिक्षा प्राप्त करने तक, उसे 6 चरणों में कुल 15,000 रुपये की धनराशि शासन द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी। इसके अतिरिक्त, ह्यमुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनाह्ण के अन्तर्गत बालिका की शादी के लिए 51,000 रुपये की धनराशि उपलब्ध करायी जाती है। मुख्यमंत्री जी ने मुख्यमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत निर्मित आवासों का फीता काटकर संबंधित का गृह प्रवेश भी कराया। उन्होनें गांव का भ्रमण कर विकास कार्यों का निरीक्षण किया तथा ग्रामवासियों से वार्ता कर योजनाओं के सम्बन्ध में फीडबैक भी प्राप्त किया। उन्होंने इस अवसर पर शासकीय विभागों की प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। इस अवसर पर सांसद श्री जगदम्बिका पाल, विधायकगण श्री विपिन सिंह, श्री संत प्रसाद, श्री शीतल पाण्डेय, महापौर श्री सीताराम जायसवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने जनपद गोरखपुर के विकास कार्यों की समीक्षा की
लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने गोरखपुर में गोरखनाथ मंदिर में जनपद में किए जा रहे विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की। उन्होंने बैठक के दौरान जनपद में किए जा रहे निर्माण कार्यों को समयबद्धता एवं गुणवत्ता के साथ किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जिलाधिकारी को प्रत्येक 15 दिनों में निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा करने तथा प्रत्येक निर्माण कार्य के लिए अलग-अलग नोडल अधिकारी/टीम बनाकर गुणवत्ता की निगरानी कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोई भी निर्माण कार्य लम्बित न रहे। इन कार्यों में यदि कोई कठिनाई आती है, तो शासन को अवगत कराया जाए। उन्होंने कहा कि लोगों को बुनियादी सुविधा मिले इसके लिए योजना बनाकर कार्य करें।
मुख्यमंत्री जी ने जनपद में निमार्णाधीन इण्टर कालेजों, स्टेडियम, डेज्नेज सिस्टम, राप्ती नदी पर बन रहे पक्के घाट निर्माण की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि राप्ती/रोहिन नदी में गिरने वाले नालों को रोकने के लिए एक विस्तृत कार्य योजना बनाकर प्रस्तुत की जाए, जिससे उसका स्थायी समाधान हो सके। उन्होंने खेलो इण्डिया के तहत ग्राम पंचायतों में खेल के मैदान चिन्हित करने के निर्देश देते हुए कहा कि जनप्रतिनिधियों का सहयोग लेकर खेल के मैदान में ओपेन जिम तथा अन्य खेल के सुविधाएं स्थापित की जाएं। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में ठण्ड के दृष्टिगत रैन बसेरे की व्यवस्था व कम्बल आदि की खरीद की कार्यवाही पूर्ण कर ली जाए। कोई भी व्यक्ति ठण्ड में खुले आसमान के नीचे न सोने पाए।
मुख्यमंत्री जी ने सड़क निर्माण की समीक्षा करते हुए 15 नवम्बर, 2019 तक सभी सड़कों को गड्ढामुक्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विकास कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ पूर्ण किए जाएं तथा इसमें समझौता न किया जाए। उन्होंने देवरिया-गोरखपुर फोरलेन एवं महराजगंज-गोरखपुर फोरलेन की निर्माण की समीक्षा करते हुए निर्माण कार्यों को तेजी लाने तथा गोरखपुर-वाराणसी फोरलेन को भी ठीक कराने का निर्देश दिए। मुख्यमंत्री जी ने नगर निगम एवं शहर की सीमा विस्तार के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि इसके लिए व्यापक कार्य योजना तैयार की जाए। उन्होंने नगर निगम को छठ पर्व के दृष्टिगत घाटों की साफ-सफाई एवं अन्य व्यवस्थाएं पूर्ण करने तथा शहर में पार्किंग आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के आवास निर्माण में तेजी लायी जाए तथा गोरखपुर ओवरब्रिज के नीचे की सड़क को ठीक कराया जाए। उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारियों को त्योहारों के दृष्टिगत विशेष सतर्कता बरतने और समय-समय पर सघन जांच अभियान चलाने के भी निर्देश दिए। बैठक में शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Share this News:

Author

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.