हरियाणा के सभी सरकारी भवनों में आगामी 15 अगस्त,2018 तक पुरानी लाइटों को हटाकर एलईडी लाइटें लगा दी जाएंगी

Share this News:


 हरियाणा के सभी सरकारी भवनों में आगामी 15 अगस्त,2018 तक पुरानी लाइटों को हटाकर एलईडी लाइटें लगा दी जाएंगी

चंडीगढ, 25 जुलाई – हरियाणा के सभी सरकारी भवनों में आगामी 15 अगस्त,2018 तक पुरानी लाइटों को हटाकर एलईडी लाइटें लगा दी जाएंगी, जिससे बिजली की बचत के साथ-साथ अच्छी रोशनी भी प्राप्त होगी।

        हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने इस सम्बन्ध में यह निर्देश आज यहां राज्य के सभी मण्डलायुक्तों व जिला उपायुक्तों के साथ वीडियो कान्फ्रैंसिंग के माध्यम से दिए। उन्होंने कहा कि आगामी 15 अगस्त तक सभी सरकारी भवनों में एलईडी लाइटें पुरानी लाइटों की जगह लगाई जाएं। उन्होंने उपायुक्तों को निर्देश देते हुए कहा कि वे सर्वप्रथम बिजली विभाग व ईईएसएल के माध्यम से एलईडी लाइटें ले सकते हैं। इसके अलावा, सम्बन्धित विभाग अपने भवन में जैम पोर्टल के माध्यम से भी एलईडी लाइटें खरीद सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी उपायुक्तों को अपने-अपने जिला की रिपोर्ट भी इस सम्बन्ध में भेजनी होगी।

        बैठक में मुख्यमंत्री ने विभिन्न जिलों में आयोजित किए जाने वाले राहगीरी कार्यक्रम के सम्बन्ध में कहा कि कुछ जिलों में यह कार्यक्रम बहुत ही बेहतरीन और उत्साह के साथ आयोजित किया जा रहा है, जिसमें सम्बन्धित जिला के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक भाग ले रहे हैं। उन्होंने करनाल और गुरुग्राम जिले में राहगीरी कार्यक्रम को लेकर प्रशंसा करते हुए कहा कि करनाल और गुरुगाम जिलोें में 11-11 कार्यक्रम आयोजित किए जा चुके हैं। इसके अलावा, चार जिलों में 20,000 से अधिक लोगों ने भाग लिया है। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद, रेवाड़ी, यमुनानगर और नूंह में राहगीरी कार्यक्रम को बढ़ावा दिया जाए, क्योंकि यह लोगों का कार्यक्रम है और लोगों को तनावमुक्त करता है।

उन्होंने उपायुक्तों को निर्देश देते हुए कहा कि इस कार्यक्रम को आयोजित करने के लिए राहगीरी आयोजन समिति का भी गठन किया जाए, जो माह में दो बार शहर के अन्दर इस कार्यक्रम का आयोजन करवाएगी। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित उपायुक्त अपने जिले में इस कार्यक्रम को आयोजित करवाने के लिए किसी भी संस्था को कार्यभार दे सकते हैं, जो लोेगों के उत्साहवर्धन के लिए कार्य करेगी। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम लोगों को तनाव से मुक्त करने के लिए आयोजित किया जा रहा है और इसे इसे एक प्रकार से उत्साह का मेला भी कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि लोग तनावमुक्त रहें और प्रसन्नता के साथ अपना जीवन जीएं। मुख्यमंत्री ने वीडियो कान्फ्रैंस के माध्यम से उपायुक्तों व पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए कि वे राहगीरी कार्यक्रम में भाग लेने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने हेतु किसी एक अधिकारी की डयूटी भी लगाएं और हो सके तो इस कार्यक्रम से सम्बन्धित सुझाव भी दें।

मुख्यमंत्री ने बैठक में राज्य के सभी जिला उपायुक्तों से उनके जिले में शिवधाम योजना, अन्त्योदय सेवा केन्द्र, विकास पट्ट योजना, पौधगिरी अभियान, उज्जवला योजना, एलईडी लाइट लगाने बारे तथा वर्षा से सम्बन्धित जानकारी ली और आवश्यक दिर्शानिर्देश दिए।

बैठक में मुख्य सचिव श्री डी एस ढेसी, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा० राकेश गुप्ता, मुख्यमंत्री के उप प्रधान सचिव श्री मनदीप सिंह बराड़, राजस्व एवं आपदा प्रबन्धन विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती केसनी आनन्द अरोड़ा, बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पी के दास, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राम निवास, लोक निर्माण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री आलोक निगम, सैकेण्डरी शिक्षा विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती धीरा खण्डेलवाल, पशुपालन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री सुनील गुलाटी, विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव श्री सुधीर राजपाल, वित्त विभाग के प्रधान सचिव श्री टीवीएसएन प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Share this News:

Author

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *