मुख्यमंत्री ने कारगिल विजय दिवस के अवसर पर कारगिल युद्ध में शहीद हुए सैनिकों की प्रतिमाओं पर पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की
 
काकोरी काण्ड व कारगिल युद्ध के शहीदों के परिवारीजनों को सम्मानित किया
 
देश की एकता और अखण्डता की रक्षा करना प्रत्येक भारतीय का कर्तव्य: मुख्यमंत्री
 
कारगिल विजय दिवस भारत के शौर्य, पराक्रम, स्वाभिमान और सम्मान का दिवस 
 
प्रदेश के सभी नगर निगमों में शहीदों की स्मृति में पार्क बनाए जाने चाहिए
लखनऊ: 26 जुलाई, 2018: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज कारगिल विजय दिवस के अवसर पर कारगिल शहीद स्मृति वाटिका में कारगिल युद्ध में शहीद हुए सैनिकों की प्रतिमाओं पर पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर उन्होंने काकोरी काण्ड व कारगिल युद्ध के शहीदों के परिवारीजनों को सम्मानित भी किया।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज का दिन बड़ा पावन है। इस धरती पर अनेक वीर सपूतों ने जन्म लिया, जिन्होंने हमेशा ही देश को विदेशी आक्रान्ताओं से बचाने में अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया। देश की एकता और अखण्डता की रक्षा करना प्रत्येक भारतीय का कर्तव्य होना चाहिए। हम सभी के लिए ये वीर सैनिक प्रेरक हैं, इनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है। उन्होंने कहा कि 26 जुलाई, 1999 को पाकिस्तान की कायराना हरकत पर भारतीय सैनिकों ने अपनी विजय पताका पहरायी।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कारगिल विजय दिवस भारत के शौर्य, पराक्रम, स्वाभिमान और सम्मान का दिवस है। उत्तर प्रदेश के अनेक वीरों ने इस युद्ध में अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि यह पार्क भारत की राष्ट्रीयता को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी नगर निगमों में शहीदों की स्मृति में पार्क बनाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि समाज, प्रदेश व देश की समृद्धि के लिए सभी को अहर्निश प्रयास करना चाहिए। तभी हम खुशहाल भारत बना सकते हैं। इस मौके पर उन्होंने कहा कि स्वच्छता को हमें अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाना चाहिए। स्वच्छ भारत की अवधारणा को लेकर ही सशक्त व समर्थ भारत बना सकते हैं।
श्री योगी जी ने कहा कि देश की रक्षा करते हुए शहीद होने से बड़ा कोई बलिदान नहीं है। युद्धकाल के दौरान अदम्य साहस, वीरता और शौर्य का प्रदर्शन करने वाले सैनिकों को विभिन्न प्रकार के वीरता पदक दिए जाते हैं। लेकिन शांतिकाल के दौरान भी आतंकवादी घटनाओं, प्राकृतिक आपदाओं सहित कई ऐसी परिस्थितियां उत्पन्न होती हैं, जिसमें सैनिक अपनी कर्मठता, शौर्य, पराक्रम तथा कर्तव्यपरायणता का परिचय देते हुए देश सेवा के लिए अपने प्राणों की बाजी लगा देते हैं। उन्होंने कहा कि भारत माता की रक्षा में शहीद होने वाले सैनिकों के परिवारीजनों को राज्य सरकार हर सम्भव मदद उपलब्ध कराएगी।
इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा ने कहा कि विद्यार्थियों को स्कूली शिक्षा के साथ-साथ राष्ट्र भावना से जुड़ी विभिन्न पहलुओं की प्रेरक जानकारियां भी उपलब्ध करायी जानी चाहिए, जिससें नई पीढ़ी में राष्ट्र भक्ति की भावना प्रबल हो सके। कार्यक्रम को नगर विकास मंत्री श्री सुरेश खन्ना ने भी सम्बोधित किया।
इस अवसर पर राज्य सरकार के मंत्रीगण श्री आशुतोष टण्डन, श्रीमती रीता बहुगुणा जोशी, डाॅ0 महेन्द्र सिंह, श्री अनिल राजभर, श्री मोहसिन रजा, लखनऊ की महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया, विधायकगण, पार्षद, शहीदों के परिवारीजन सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
Categories: Uncategorized

cdadmin

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *