मुख्यमंत्री ने भारी वर्षा से प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्य युद्धस्तर पर संचालित करने के निर्देश दिए
 
भारी वर्षा/भारी वर्षा से मकान गिरने के कारण मृत व्यक्तियों के परिजनों को मानक के अनुसार राहत राशि शीघ्र उपलब्ध करायी जाए
 
घायलों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए प्रभावितों के लिए तत्काल राहत व पुनर्वास के इन्तजाम किए जाएं
 
संकट की इस घड़ी में राज्य सरकार प्रभावितों के साथ: मुख्यमंत्री
लखनऊ: 27 जुलाई, 2018: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने विभिन्न जनपदों में हुई भारी वर्षा से प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्य युद्धस्तर पर संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सम्बन्धित जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि भारी वर्षा एवं भारी वर्षा से मकान गिरने के कारण मृत व्यक्तियों के परिजनों को मानक के अनुसार शीघ्र राहत राशि उपलब्ध करायी जाए। उन्होंने कहा है कि घायलों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए प्रभावितों के लिए तत्काल राहत व पुनर्वास के भी इन्तजाम किए जाएं।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि संकट की इस घड़ी में राज्य सरकार प्रभावितों के साथ है और उनकी हर सम्भव मदद की जाएगी। उन्होंने राहत और पुनर्वास कार्यों के प्रभावी संचालन के निर्देश देते हुए कहा कि भारी वर्षा से क्षतिग्रस्त अवस्थापना सुविधाओं की मरम्मत का कार्य तुरन्त प्रारम्भ किया जाए। उन्होंने कहा कि राहत कार्यों में किसी भी प्रकार की शिथिलता और लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
उ0प्र0 राज्य आपदा प्रबन्ध प्राधिकरण द्वारा उपलब्ध कराए गए विवरण के अनुसार बृहस्पतिवार को भारी वर्षा से आगरा में 05, मैनपुरी में 04, बरेली में 02, कानपुर देहात, मथुरा, गाजियाबाद, हापुड़, झांसी, रायबरेली, जालौन, जौनपुर में 1-1 तथा भारी वर्षा से मकान गिरने के कारण मुजफ्फरनगर और कासगंज में 03-03, मेरठ में 02 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है। इन घटनाओं में आगरा में 05, मथुरा में 02, मुजफ्फरनगर में 01, कासगंज में 03, झांसी में 01 कुल 12 व्यक्तियों के घायल होने की सूचना है। इसके अलावा, कानपुर देहात में भारी वर्षा से 03 पशु हानि की भी सूचना है।
Categories: Uncategorized

cdadmin

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *