भारतीय सर्वेक्षण विभाग की डिजिटल इण्डिया-भू रिकॉर्ड आधुनिकीकरण कार्यक्रम के तहत आवश्यक राजस्व डाटा उपलब्ध करवाए: कैप्टन अभिमन्यु 

चंडीगढ़,17 जुलाई-हरियाणा के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री कैप्टन अभिमन्यु अधिकारियों को निर्देश दिए है कि भारतीय सर्वेक्षण विभाग की डिजिटल इण्डिया-भू रिकॉर्ड आधुनिकीकरण कार्यक्रम के तहत आवश्यक राजस्व डाटा उपलब्ध करवाए। यह  हरियाणा सरकार की एसडीआरबी योजना के लिए भी महत्वपूर्ण होगा।
    कैप्टन अभिमन्यू आज भारतीय सर्वेक्षण विभाग व हरियाणा सरकार संयुक्त रूप से क्रियान्वित की जा रही सर्वेक्षण अपग्रेडेशन एवं रिकॉर्ड निपटान की बुलाई गई समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। 
    बैठक में भारतीय सर्वेक्षण विभाग के महानिदेशक, लेफ्टिनेंट जनरल गिरीश कुमार, राजस्व एवं आपदा प्रबन्धन विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव केसनी आनन्द अरोड़ा, गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी ऊमाशंकर, विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव श्री सुधार राजपाल व राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र व हरसक के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। 
    कैप्टन अभिमन्यु ने बताया कि गुरुग्राम को वैश्विक जीवन शैली के अनुरूप भारत का सुरक्षित शहर बनाना है और इस कड़ी में ऐसे डाटा उपयोगी है। ड्रोन के माध्यम से वहां पर गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण द्वारा डाटा एकत्रित किया जा रहा है और इस कड़ी में 21 जुलाई को विभाग के अधिकारियों के साथ गुरुग्राम का दौरा भी करेंगे। उन्होंने बताया कि 6000 से अधिक गांव में लाल डोरे के अन्दर 20 प्रतिशत से अधिक सम्पतियां खाली पड़ी हैं, जिनकी मैपिंग की जा रही है ताकि मालिक इनका रजिस्ट्रेशन करवाकर बेच सकें। उन्होंने बताया कि अब तक एक लाख 66 हजार सम्पतियों की पहचान की जा चकुी है। 

Categories: Uncategorized

cdadmin

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *