राज्य सरकार ने किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए गन्नें की पैमेंट का भुगतान करने के लिए 200 करोड़ रुपये की राशि जारी कर दी है और शीघ्र ही यह किसानों के खातों में पहुंच जाएगी

चण्डीगढ़, 29 जुलाई –  हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने घोषणा की कि राज्य सरकार ने किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए गन्नें की पैमेंट का भुगतान करने के लिए 200 करोड़ रुपये की राशि जारी कर दी है और शीघ्र ही यह किसानों के खातों में पहुंच जाएगी।

उन्होंने कहा कि हमने किसानों के लिए वो सब किया जो उनके लिए जरूरी था। हरियाणा प्रदेश का पहला राज्य है जहां गन्ने का भाव सर्वाधिक 330 रुपये प्रति म्ंिटल है। प्रदेश की शुगर मिलों में घाटा होने के कारण किसानों की गन्नें के भुगतान में देरी हो गई थी, परंतु इस घाटे के बावजूद भी किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए गन्नें की पैमेंट का  भुगतान करने के लिए 200 करोड रुपये राशि जारी कर दी गई है।

वे आज प्रदेश के किसानों के लिए बाजरा और सुरजमूखी धन्यवाद रैली के बाद घरौंडा में ऐतिहासिक किसान धान रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने धान का समर्थन मूल्य 200 प्रति म्ंिटल बढ़ाया है। धान के मूल्य में वृद्धि होने से प्रदेश के किसानों को करीब 6 हजार रूपये प्रति एकड का लाभ मिलेगा। यह किसानों के लिए एक बहुत बडा उपहार है। ॒प्रधानमंत्री॒ मोदी ने किसानों की फसलों का समर्थन मूल्य बढ़ाकर ऐतिहासिक फैसला लिया है, इससे किसानों की आर्थिक दशा में सुधार होगा और प्रदेश का किसान आगे बढे़गा।

मुख्यमंत्री ने बताया कि करनाल शुगर मिल के नवीनिकरण का कार्य शीघ्र पूरा किया जाएगा, एक महीने में इसका ट्रेंडर लग जाएगा और इसके कार्य पर करीब 225 करोड रुपये खर्च होने है। इसी प्रकार मुख्यमंत्री ने कहा कि पानीपत के शुगर मिल का भी अगले माह में ट्रैंडर लग जाएगा, इसके लिए 100 करोड रुपये खर्च किए जाएगें।

मुख्यमंत्री ने रैली के माध्यम से किसानों को बताया कि पिछले दिनों भारी बारिश होने के कारण हथनीकुंड बैराज से करीब 6 लाख क्युसिक पानी यमुना नदी में छोडा गया था, जिसके कारण यमुना के साथ लगते गांवों में बाढ़ की सम्भावना बढ़़ गई थी, जिसके कारण किसानों के खेतों में पानी चला गया है, जिसका उन्होंने आज हवाई सर्वे करके स्थिति का जायजा लिया है। उन्होंने कहा कि किसानों को किसी प्रकार का नुकसान ना हो, इसके लिए स्पेशल गिरदावरी करवाई जाएगी और किसानों को उचित मुआवजा दिया जाएगा।

        मुख्यमंत्री मनोहर लाल  रविवार को घरौंडा की अनाज मंडी में आयोजित किसान धान रैली में ॒हजारों की संख्या में उमडी भीड से गदगद मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ही ऐसी पार्टी है जो किसानों का भला कर सकती है, यदि किसानों का भला हम नही कर सकते तो मानकर चलिए कोई नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि पहले वोट के नाम पर किसानों के साथ राजनीति होती रही, परन्तु प्रधानमंत्री मोदी ने खरीफ की फसलों का समर्थन मूल्य में भारी वृद्धि करके ना केवल विपक्ष को करारा जवाब दिया है बल्कि किसानों की आर्थिक स्थिति को भी उभारने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री के इस फैसले से ना केवल किसान बल्कि खेती हर मजदूर, व्यापारियों व आढ़तियों को भी सीधा लाभ मिलेगा, औद्योगिक क्षेत्र को भी गति मिलेगी। हर वर्ग खुशहाल होगा तो देश व प्रदेश भी खुशहाल बनेगा।

        मुख्यमंत्री ने कहा कि  प्रदेश के किसान की फसल को जोखिम मुक्त बनाने के उदेश्य से भावन्तर भरपाई योजना लागू की है, इस योजना के तहत घाटा सरकार का लाभ किसान का, जब भी आलू, टमाटर, गोभी तथा प्याज का भाव मंडी में लागत मुल्य से कम मिलेगा तो ऐसी दशा में सरकार उन्हें खरीदेगी और किसानों को उनकी लागत का पूरा मूल्य देगी। उन्होंने किसानों को सुझाव दिया कि जब टमाटर सस्ता हो तो शोस बनाई जा सकती है जिसका बाजार में काफी रेट है, इसी प्रकार जब आलू सस्ता हो तो उसके चिप्स बनाकर बाजार में बेचा जा सकता है और जब गोभी का आचार का भी बाजार में काफी अच्छा भाव मिलता है। किसान यदि अपने इस तरीके को अपनाए गए तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का 2022 तक किसानों की आय दोगुणा करने का सपना साकार होगा।

        मुख्यमंत्री ने घरौंडा के विधायक एवं हैफेड के चेयरमैन हरविन्द्र कल्याण को कहा कि वह इसकी शुरूआत घरौंडा विधान सभा क्षेत्र से करे, इसके लिए सरकार द्वारा घरौंडा में 5 ट्रेनिंग सेंटर खुलवाएगें ताकि किसान प्रशिक्षण लेकर स्वरोजगार स्थापित कर सकें। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार किसानों की आय के लिए एक ओर आगे कदम बढ़ा रही है। किसानों को मंडी में सब्जी के भाव उचित ना मिले तो किसान अपने सब्जी को अगले दिन बढि़या भाव में बेचना चाहे तो इसके लिए ॒ हैफेंड द्वारा घरौंडा में कोल्ड स्टोर बनाए जाएगें ताकि किसान अपनी सब्जी को खराब होने से बचा सकें।

        घरौंडा के विधायक एवं धान रैली के आयोजक हरविन्द्र कल्याण ने मुख्यमंत्री सहित आए हुए सभी अतिथियों का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने फसलों के भाव में वृद्धि करके किसान के लिए त्यौहारों के सीजन की शुरूआत कर दी है। वैसे तो हमारी संस्कृति के अनुसार सावन के महीने में त्यौहारों का सीजन शुरू होता है लेकिन प्रधानमंत्री ने खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में अभूतपूर्व वृद्धि करके जून माह से ही शुरूआत कर दी है। उन्होंने उपस्थित किसानों से हाथ उठाकर समर्थन मांगते हुए कहा कि क्या इससे पहले की सरकारों ने कभी किसानों के लिए सोचा था, पंडाल की तरफ ना की आवाज आई तो तुरंत विधायक ने कहा कि भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जो हितों में काम करती है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में ही किसान खुशहाल होगा।

        कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड, परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले  मंत्री कर्णदेव काम्बोज, नीलोखेडी के विधायक भगवानदास कबीरपंथी, असंध के विधायक सरदार बख्शीश सिंह विर्क, लाडवा के विधायक डा. पवन सैनी, थानेसर के विधायक सुभाष सुधा, पानीपत शहरी विधायक रेवती रेवडी, पानीपत ग्रामीण विधायक महिपाल ढ़ाडा, गुहला के विधायक कुलवंत बाजीगर, शुगर फैड के चेयरमैन चन्द्रप्रकाश कथूरिया, मुख्यमंत्री के मीडिया एडवाईजर राजीव जैन, ओएसडी अमरेन्द्र सिंह, भाजपा  के प्रदेश महासचिव संजय भाटिया, सचिव एडवोकेट वेदपाल, जिलाध्यक्ष जगमोहन आनन्द, महामंत्री योगेन्द्र राणा, राजबीर शर्मा, किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष समय सिंह भाटी, जिला अध्यक्ष सतीश राणा, पूर्व विधायक रेखा राणा, महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष निर्मला बैरागी, प्रभारी रामेश्वर चौहान, जयपाल शर्मा, महेन्द्रा चौहान, रजनी चुग्घ, विरेन्द्र त्यागी, रविन्द्र बैरागी सहित भारी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता उपस्थित रहें।

Categories: Uncategorized

cdadmin

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *