वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद द्वारा संचालित कम्युनिटी कॉलेज ऑफ स्किल डेवलेपमेंट के अंतर्गत नये शैक्षणिक सत्र 2018-19 से 15 दिन से लेकर पांच वर्ष की अवधि के सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, एडवांस डिप्लोमा तथा वोकेशन में स्नातक सहित 26 नये पाठ्यक्रम शुरू करने की घोषणा की 
चंडीगढ़, 12 जुलाई- वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद द्वारा संचालित कम्युनिटी कॉलेज ऑफ स्किल डेवलेपमेंट के अंतर्गत नये शैक्षणिक सत्र 2018-19 से 15 दिन से लेकर पांच वर्ष की अवधि के सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, एडवांस डिप्लोमा तथा वोकेशन में स्नातक सहित 26 नये पाठ्यक्रम शुरू करने की घोषणा की है।
नये सत्र से शुरू किये जा रहे पाठ्यक्रमों में रेफ्रिजरेशन, एयरकंडीशनिंग, घरेलू उपकरण प्रशिक्षण, इलेक्ट्रीशियन, फिटर, टर्नर, वेल्डिंग, वेब डिजाइनिंग, कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर एंड नेटवर्किंग तथा योग एवं नेचुरोपैथी पाठ्यक्रम शामिल हंै, जिनके लिए आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। सभी पाठ्यक्रमों के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 10वीं एवं 12वीं पास है और आवेदन की अंतिम तिथि 16 अगस्त, 2018 है।
कम्युनिटी कॉलेज के नये पाठ्यक्रमों की घोषणा करते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि विश्वविद्यालय द्वारा संचालित कम्युनिटी कालेज का उद्देश्य साधन से वंचित आर्थिक व शैक्षणिक रूप से कमजोर युवाओं का कौशल विकास कर उन्हें रोजगार के योग्य बनाना है। कॉलेज द्वारा शुरू किये गये नये पाठ्यक्रमों से कामगार एवं बेरोजगार युवा तकनीकी रूप से और अधिक सक्षम तथा रोजगार योग्य बनेंगे। कौशल विकास युवाओं को सशक्त बनाने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। कुलपति ने कहा कि ‘स्किल इंडिया’ कार्यक्रम को लेकर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की सोच के अनुरूप कॉलेज द्वारा नये कौशल विकास एवं व्यवसायिक पाठ्यक्रम औद्योगिक मांग को ध्यान में रखते हुए औद्योगिक सहभागिता में शुरू किये गये हैं, जिससे इन पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने वाले युवाओं को रोजगार के सुनिश्चित अवसर मिलेंगे।
कम्युनिटी कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. संजीव गोयल ने बताया कि विश्वविद्यालय द्वारा वर्ष 2013 में कम्युनिटी कालेज शुरू किया गया था। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) से मान्यता प्राप्त कम्युनिटी कालेज में शैक्षणिक सत्र 2014-15 से वेल्डिंग एवं इलेक्ट्रीशियन के एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स करवाये जा रहे हैं। कॉलेज द्वारा युवाओं को रोजगार एवं स्व:रोजगार के लिए पूरा सहयोग दिया जाता है और कॉलेज का अब तक का प्लेसमेंट रिकार्ड बेहतरीन रहा है।
डॉ. गोयल ने बताया कि विश्वविद्यालय द्वारा एयरकंडीशन के क्षेत्र में अग्रणीय कंपनी डेकिन की सहभागिता में एयरकंडीशनिंग में पांच वर्षीय एकीकृत पाठ्यक्रम शुरू किया जा रहा है, जिसमें दाखिले के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 10वीं है और सीटों की संख्या 60 है। इस पांच वर्षीय पाठ्यक्रम की खास बात यह है कि पाठ्यक्रम में लेटरल एंट्री व लेटरल एग्जीट का प्रावधान रहेगा अर्थात् एक वर्ष के बाद कोर्स छोडऩे पर सर्टिफिकेट, दूसरे वर्ष के बाद एडवांस सर्टिफिकेट, तीसरे वर्ष के बाद डिप्लोमा, चौथे के बाद एडवांस डिप्लोमा तथा पांचवें वर्ष के बाद वोकेशन में स्नातक की डिग्री प्रदान की जायेगी।
इसी प्रकार, गोदरेज दिशा कंपनी के साथ सहभागिता में 15 दिन की अवधि से लेकर तीन महीने की अवधि के आठ सर्टिफिकेट व एडवांस सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम शुरू किये जा रहे हैं, जिसमें युवाओं को रेफ्रिजरेशन, एयरकंडिशन, वाशिंग मशीन, माइक्रोवेव जैसे घरेलु उपकरणों को रिपेयर करना सिखाया जायेगा। राष्ट्रीय लघु उद्योग कारपोरेशन की सहभागिता में कॉलेज तीन महीने से लेकर एक वर्ष की अवधि के 11 सर्टिफिकेशन पाठ्यक्रम शुरू कर रहा है, जिसमें इलेक्ट्रीशियन, फिटर, टयूनर, टूल व डाई मेकर, सीएनसी मैकेनिकिंग टेक्नोलॉजी, जीएसटी के साथ टैली, पीएचसी व एससीएडीआई, ब्यूटीफिकेशन तथा मोबाइल रिपेयर जैसे पाठ्यक्रम शामिल हैं। इसके अलावा, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सीएनसी टयूनिंग, एआरसी वेल्डिंग तथा असिस्टेंट इलेक्ट्रीशियन के तीन-तीन महीने के तीन पाठ्यक्रमों तथा विश्वविद्यालय द्वारा वेबडिजाइनिंग, कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर व नेटवर्किंग तथा योग विज्ञान में एक वर्ष के तीन डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के लिए भी आवेदन आमंत्रित किये गये है।
सभी पाठ्यक्रमों में दाखिले के इच्छुक युवा विश्वविद्यालय की वेबसाइट http://www.ymcaust.ac.in या http://www.ccsd.net.in र उपलब्ध प्रोस्पेक्टस तथा आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते है। इस संबंध में कॉलेज के दूरभाष नम्बर 0129-2310175 पर भी संपर्क किया जा सकता है।
Categories: Uncategorized

cdadmin

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *