चक्की -कटोरी बंगला राष्ट्रीय मार्ग का काम जल्दी होगा शुरू
लोक निर्माण मंत्री सिंगला निजी तौर पर इस अंतरराज्यीय सडक़ का काम समयबद्ध तरीकों से सम्पूर्ण होने पर रखेंगे नजऱ
चंडीगढ़, 11 जुलाई- पंजाब के लोक निर्माण मंत्री श्री विजय इंद्र सिंगला ने आज बताया कि हिमाचल प्रदेश की सीमा तक 39.36 किलोमीटर लम्बी चक्की -धार -दुनेरा -कटोरी बंगला सडक़ को राष्ट्रीय मार्ग -ए ऐलान दिया गया है। उन्होंने बताया कि पंजाब को हिमाचल प्रदेश और जम्मू -कश्मीर के साथ जोडऩे वाली इस अहम सडक़ का काम पंजाब सरकार जल्दी से जल्दी शुरू करने जा रही है।
इस प्रोजैकट संबंधी ओैर जानकारी देते हुए श्री सिंगला ने बताया कि वर्ष 2018 -19 के लिए वार्षिक योजना में मौजूदा सडक़ के भौगोलिक सुधार और मज़बूतीकरन संबंधी अनुप्रयुक्त अध्ययन और विस्तृत प्रोजैकट रिपोर्ट (डी.पी.आर.) तैयार करने के काम प्रस्तावित़ किये गए हैं। उन्होंने बताया कि इस प्रोजैकट के लिए टैंडर माँग लिए गए हैं, जो 31 जुलाई, 2018 तक प्राप्त किये जाएंगे। इसके उपरांत स्वीकृति के लिए विस्तृत प्रोजैकट रिपोर्ट (डी.पी.आर.) केंद्रीय सडक़ यातायात और राष्ट्रीय मार्ग मंत्रालय के पास जमा करवाई जायेगी और मंज़ूरी मिलने से तुरंत बाद इस सडक़ का काम शुरू कर दिया जायेगा। श्री सिंगला ने बताया कि इस प्रोजैकट की अनुमानित लागत 25 करोड़ रुपए निश्चित गई है।
अपनी बात को जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि इसके अलावा पठानकोट के लिए महत्वपूर्ण सडक़ प्रोजैकट को भी स्वीकृति दी गई है। श्री सिंगला ने बताया कि 5.58 करोड़ रुपए की लागत के साथ दुनेरा -सलियाली -लहरून -गला सडक़ को भी चौड़ा किया जायेगा। उन्होंने बताया कि यह अंतरराज्यीय सडक़ पंजाब के दुनेरा गाँव को हिमाचल प्रदेश के नूरपुर शहर के साथ जोड़ती है और यह सडक़ स्थानीय लोगों को चम्बा और डलहौजी से धर्मशाला जाने के लिए शार्टकट रास्ता मुहैया करवाती है। इसके अलावा यह मार्ग देव भूमि हिमाचल प्रदेश जाने वाले यात्रियों के लिए भी अहम है। उन्होंने आगे कहा कि बसौली में रावी दरिया पर आर.ओ.बी. बनने से इस मार्ग को अक्सर स्थानीयलोगों और फ़ौज द्वारा जम्मू -कश्मीर जाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है, परंतु इस मार्ग पर यातायात की बहुतायत होने के कारण और बरसात के मौसम में ढिग्गें गिरने के कारण इस मार्ग को तीन वर्षों से मुरम्मत की ज़रूरत थी जिस कारण अब टैंडर खोले गए हैं जिससे इस महत्वपूर्ण सडक़ का तेज़ी से काम सम्पूर्ण किया जा सके। मौजूदा टैंडरिंग में सडक़ को चौड़ा करने के साथ-साथ इसको मज़बूत करना, रीटेनिंग वाल का निमार्ण करना, पुलों /पुलियों को चौड़ा करने के अलावा पुलों की मुरम्मत शामिल है।
पठानकोट के लिए चल रहे इस प्रोजैकट पर संतुष्टि जताते हुए श्री सिंगला ने कहा कि वह इन प्रोजेक्टों की ख़ुद निगरानी कर रहे हैं और इनको समय पर पूरा करने में कोई कसर नहीं छोडेंगे।
Categories: Uncategorized

cdadmin

Editor in Chief of City Darpan, national hindi news magazine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *